नुसरत फ़तेह अली की एक बेहतरीन क़व्वाली (ग़ज़ल) बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया काग़ज़ पे श्याम ...

Click here to read this mailing online.

Your email updates, powered by FeedBlitz

 
Here is a sample subscription for wasonrohit@hotmail.com


  1. बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया
  2. आया तेरे दर पर दीवाना
  3. होके मजबूर मुझे उसने भुलाया होगा
  4. ओ माँ
  5. चन कित्थां गुजारी अइ
  6. More Recent Articles

बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया

नुसरत फ़तेह अली की एक बेहतरीन क़व्वाली (ग़ज़ल)

बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया काग़ज़ पे...

यह सच्चा मोती यहाँ चुनें: »

    

आया तेरे दर पर दीवाना

आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ जो बंदिशे थी ज़माने को तोड़ आया हूँ मैं तेरे लिए दुनिया को छोड़ आया हूँ ...

यह सच्चा मोती यहाँ चुनें: »

    

होके मजबूर मुझे उसने भुलाया होगा

हकीक़त फ़िल्म की ये नज़्म, दिल को छूकर जाती है: होके मजबूर मुझे उसने भुलाया होगा ज़हर चुपके-से...

यह सच्चा मोती यहाँ चुनें: »

    

ओ माँ

तू कितनी अच्छी है, तू कितनी भोली हैप्यारी प्यारी है, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँके ये जो दुनिया है, ये बन...

यह सच्चा मोती यहाँ चुनें: »

    

चन कित्थां गुजारी अइ

चन कित्थां गुजारी अइओ चन कित्थां गुजारी अइ रात वे,मेंडा दी दलीलां दे वात वेओ चन कित्थां गुजारी...

यह सच्चा मोती यहाँ चुनें: »

    

More Recent Articles


You Might Like

Click here to safely unsubscribe from "कुछ सच्चे मोती."
Click here to view mailing archives, here to change your preferences, or here to subscribePrivacy